Category Archives: हिंदी कविता

बिटिया 👧 अनमोल हीरा

मेहंदी रोली कंगन का सिँगार नही होता”’ रक्षा बँधन भईया दूज का त्योहार नहीं होता”” रह जाते है वो घर सूने आँगन बन कर”” जिस घर मे बेटियों का अवतार नहीं होता”’ जन्म देने के लिए माँ चाहिये, राखी बाँधने … Continue reading

Posted in हिंदी कविता | Leave a comment

पराई होती है बेटियाँ !!!!

  चिड़ियाँ होती है  लाड़कियाँ ,  ………. मगर पंख नहीं होते लाड़कियों के …..! मायके भी होते हैं , ससुराल भी होते हैं , मगर ! घर नहीं होते हैं लाड़कियों के ….. मायका कहता है , ये बेटियाँ तो … Continue reading

Posted in हिंदी कविता | Leave a comment

बसंती हवा

  हवा हूँ , हवा मैं बसंती हवा हूँ | सुनो बात मेरी – अनोखी हवा हूँ|  बड़ी बावली हूँ , बड़ी मस्तमौला | नहीं कुछ फिकर है , बड़ी ही निडर हूँ | जिधर चाहती हूँ , उधर घुमती हूँ … Continue reading

Posted in हिंदी कविता | Leave a comment

हिमालय का संदेश

  खड़ा हिमालय बता रहा है | डरो ना आंधी पानी से || खड़े रहो तुम अविचल होकर | सब संकट तूफानी में || डिगो ना अपने प्रण से | तो तुम सब कुछ पा सकते हो || तुम भी … Continue reading

Posted in हिंदी कविता | 1 Comment

बीज

  किसी नदी के किनारे एक बीज पड़ा था | वह बहुत छोटा था , वहाँ एक चिड़ीया आई | वह चोंच मरकर बीज खाने लगी | तभी बीज बोला – “रुकी रहो , रुकी रहो , जमीन में गड़ने … Continue reading

Posted in हिंदी कविता | Leave a comment

लालच से कभी सुख नहीं मिलता।

रामदास एक ग्वाले का बेटा था। रोज सुबह वह अपनी गायों को चराने जंगल में ले जाता। हर गाय के गले में एक-एक घंटी बँधी थी। जो गाय सबसे अधिक सुंदर थी उसके गले में घंटी भी अधिक कीमती बँधी … Continue reading

Posted in हिंदी कविता | 1 Comment

हरिवंशराय बच्चन की एक सुंदर कविता …

हरिवंशराय बच्चन की एक सुंदर कविता … खवाहिश नही मुझे मशहुर होने की। आप मुझे पहचानते हो बस इतना ही काफी है। अच्छे ने अच्छा और बुरे ने बुरा जाना मुझे। क्यों की जीसकी जीतनी जरुरत थी उसने उतना ही … Continue reading

Posted in हिंदी कविता | 1 Comment

रक्षा बंधन

🌸चंदन कि लकड़ी🌸 🌸फूलोंका  हार🌸 🌸आगस्त का महीना🌸 🌸सावन कि फूहार🌸 🌸भैया कि कलाई🌸 🌸बहन का प्यार🌸 🌸मुबारक हो🌸 🌸आपको रक्षा बंधन का🌸 🌸त्योहार आपको ओर🌸 🌸आपके परिवार को🌸 🌸हार्दिक हार्दिक🌸 🌸शुभ कामनाएँ🌸 🌸  ऍडवांस में🌸 HAPPY RAKSHABANDHAN 👫💐🌸🎁

Posted in हिंदी कविता | Leave a comment

दिल मे रहना आना चाहिए…

मैं रूठा, तुम भी रूठ गए  फिर मनाएगा कौन ? आज दरार है, कल खाई होगी  फिर भरेगा कौन ? मैं चुप, तुम भी चुप  इस चुप्पी को फिर तोडेगा कौन ? बात छोटी सी लगा लोगे दिल से,  तो … Continue reading

Posted in हिंदी कविता | Leave a comment

प्रार्थना में बड़ी शक्ति होती है

डॉ. मार्क जो की एक बहुत ही प्रसिद्ध कैंसर स्पेशलिस्ट थे , उन्हें एक बार किसी समारोह में भाग लेने के लिए किसी दूर शहर जाना था . उस समारोह में उन्हें उनकी नई मेडिकल रिसर्च की सफलता के इस … Continue reading

Posted in प्रेरणादायक, हिंदी कविता | 1 Comment