Category Archives: शिक्षा

तो ये थे महात्मा गांधी के राजनीतिक गुरु

भारतीय स्वतंत्रता संग्राम में अग्रणी रहे गोपाल कृष्ण गोखले महान स्वतंत्रता सेनानी होने के साथ ही एक मंझे हुए राजनीतिज्ञ भी थे. उन्होंने गांधी जी को देश के लिए लड़ने की प्रेरणा दी. वो राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के राजनीतिक गुरु … Continue reading

Posted in शिक्षा | Leave a comment

क्या आप जानते हैं |

क्या आप जानते हैं | शुतुरमुर्ग का अंडा इतना बड़ा होता है कि उससे 12 व्यक्तियों के लिये आमलेट बन सकता है| डाल्फिन नाम मछली सोते समय अपनी आंखे खुली रखती है अंग्रेज़ी वर्णमाला के सभी 26 अक्षर “ The … Continue reading

Posted in शिक्षा | Leave a comment

भाग्यशाली होने की सूचना

गरमियों की एक सुबह घनिष्ठ मित्र तोताराम और कल्लू एक जंगल में गए। सहसा उन्हें कोयल की कुहुक सुनाई पड़ी। ‘‘यह एक पक्षी की आवाज है जो किसी मंगल की सूचना देती है।’’अंधविश्वासी तोताराम ने कहा, ‘‘मैंने इसकी आवाज सुबह-सुबह … Continue reading

Posted in शिक्षा | Leave a comment

ज्ञान का प्यासा

उन दिनों महादेव गोविंद रानडे हाई कोर्ट के जज थे। उन्हें भाषाएँ सीखने का बड़ा शौक था। अपने इस शौक के कारण उन्होंने अनेक भाषाएँ सीख ली थीं; किंतु बँगला भाषा अभी तक नहीं सीख पाए थे। अंत में उन्हें … Continue reading

Posted in शिक्षा | 1 Comment

सोचकर बोलें

एक व्यक्ती ज्योतिष के पास अपनी भविष्य जानने हेतु गया | ज्योतिष ने उसकी कुंडली देख कर बताया की “ तुम्हारे देखते देखते तुम्हारे सारे रिश्तेदार मर जाएँगे| तुम इस दुनिया में अकेले रह जाओगे | उस व्यक्ती को ये … Continue reading

Posted in शिक्षा | 1 Comment

सूअर और लड़के

दो शहरी लड़के रास्ता भूल गए। अँधेरा बढ़ रहा था, अतः मजबूरन उन्हें एक सराय में रुकना पड़ा।आधी रात को एकाएक उनकी नींद उचट गई। उन्होंने पास के कमरे से आती हुई एक आवाज को सुना—‘कल सुबह एक हंडे में … Continue reading

Posted in शिक्षा | Leave a comment

अपना भविष्य नहीं बदल सकते पर आप अपनी आदते बदल सकते हैं

🌷बारिश के दौरान सारे पक्षी आश्रय की तलाश करते हैं लेकिन बाज़ बादलों के ऊपर उडकर बारिश को ही अवॉयड कर देते है। समस्याए कॉमन हैं, लेकिन आपका एटीट्यूड इसमें डिफरेंस पैदा करता है। – अब्दुल कलाम   आपको अपने … Continue reading

Posted in शिक्षा | Leave a comment

अवसर की पहचान

एक गरीब किसान था, उसे एक दिन भगवान मिले और बोलें, मैं तुम से बहुत प्रसन्न हूँ | अतः तुम मुझसे कोई एक वर मांगो, किसान को कुछ समझ में नहीं आया की , मैं कौन से वर मांगू | … Continue reading

Posted in शिक्षा | 1 Comment

सोंच अपनी अपनी

एक नगर में एक राजा रहता था| राजा जब भी महल से बाहर जाता, हमेशा अपने घोड़े पर ही जाता था| एक बार वह अपने नगर को देखने एंव जनता की समस्याओं को सुनने के लिए पैदल ही भ्रमण पर … Continue reading

Posted in शिक्षा | Leave a comment

समस्याओं पर नहीं लक्ष्य पर ध्यान केंद्रित करे

रामू गाँव का सबसे गरीब किसान था।अपने पिता की चौथी संतान था, ना तो सही से पालन पोषण हुआ और ना ही अच्छी शिक्षा प्राप्त हुई। हाँ लेकिन एक काम रामू को सबसे अच्छा आता था, वो था समोसा बनाना। रामू कान से … Continue reading

Posted in शिक्षा | 1 Comment