Monthly Archives: December 2016

सदैव बुजुर्गों का सम्मान करें!!!!

बहुत अच्छी सीख है, कृपया पढ़ियेगा जरूर…     एक पिता ने अपने पुत्र की बहुत अच्छी तरह से परवरिश की !उसे अच्छी तरह से पढ़ाया, लिखाया, तथा उसकी सभी सुकामनांओ की पूर्ती की !  कालान्तर में वह पुत्र एक … Continue reading

Posted in प्रेरणादायक | Leave a comment

बेटी कभी भी अपने माँ बाप के घर से नहीं जाती

एक पिता ने अपनी बेटी की अच्छे परिवार में सगाई करवाई, लड़का बड़े अच्छे घर से था सुशील था तो पिता बहुत खुश हुए.. लड़के ओर लड़के के माता पिता का स्वभाव बड़ा अच्छा था तो पिता के सिर से … Continue reading

Posted in हिंदी कहानियां | 1 Comment

माँ का त्याग !

एक औरत थी, जो अंधी थी | जिसके कारण उसके बेटे को स्कुल में बच्चे चिढाते थे , कि अंधा का बेटा आ गया ! हर बात में उसे यह सुनने को मिलता था की यह अंधी का बेटा है … Continue reading

Posted in प्रेरणादायक | 1 Comment

अहंकार एवं सफलता

अहंकार एवं सफलता अहंकार मनुष्य की प्रगति में सबसे बड़ी बुराई है यह एक ऐसा मानसिक रोग है | जो मनुष्य को उसकी वास्तविक ज्ञान से अधिक ज्ञानी समझने की भूल करने को प्रेरित करता है | अहंकारी व्यक्ति स्वयं … Continue reading

Posted in आत्म सुधार | 1 Comment

एक विजेता के लिए यह समझना अनिवार्य है |

एक विजेता के लिए यह समझना अनिवार्य है | यदि आप विजय होना चाहते हैं , सफलता पाना चाहते हैं तो यह समझ लें कि विजय – पथ संघर्ष पूर्ण है | सफलता और विजय प्राप्ति की यह राह आसान … Continue reading

Posted in आत्म सुधार | Leave a comment

आखिर हम क्यों असफल होते हैं ?

आखिर हम क्यों असफल होते हैं ? इस प्रश्न का उत्तर अलग अलग सोचो के व्यक्ति अलग – अलग प्रकार से देते हैं | भाग्यवादी अपनी असफलता के लिए भाग्यहीनता को जिम्मेवार बताते हैं | कामजोर संकल्प का व्यक्ति विभिन्न … Continue reading

Posted in आत्म सुधार | Leave a comment

सफलता के राह

सफलता के राह सफलता किसे अभीष्ट नहीं ? हर व्यक्ती सफल होना चाहता है | कोई भी असफल नहीं होना चाहता | इसके लिये सबसे पहली कार्य हमारा यह है कि हम अपनी सोच सकारात्मक करें  | आज कल अधिकांश … Continue reading

Posted in आत्म सुधार | Leave a comment