Menu

स्टीव जॉब्स (यह कंपनी बनाएगी दुनिया का सबसे बड़ा और बेहतरीन ऑफिस)

यह कंपनी बनाएगी दुनिया का सबसे बड़ा और बेहतरीन ऑफिस

जी हां, यह कंपनी अपने फील्ड की न केवल नंबर वन कंपनी है बल्कि बनाने जा रही है दुनिया का सबसे बड़ा ऑफिस जो हर दृष्टि से परिपूर्ण होगा और जिसमें तमाम मॉडर्न सुविधाएं उपलब्ध होंगी।

हम बात कर रहे हैं आई फोन बनाने वाली अमेरिकी कंपनी ऐप्पल की जिसके सीईओ स्टीव जॉब्स ने एक अद्वितीय ऑफिस की कल्पना को साकार करन की योजना तैयार कर ली है। जॉब्स ने इस शानदार और विशालकाय ऑफिस की प्लानिंग तैयार कर ली है और वह इस पर काम भी कर रहे हैं।

ऐप्पल का ऑफिस क्युपरटिनो में है। यह शहर सैंट क्लारा काउंटी में है जो कैलिफोर्निया में आता है। यहां दुनिया की यह सबसे धनी कंपनी अपना कार्यालय बनाए बैठी है। लेकिन समस्या है कि उसके मुख्यालय में 13,000 कर्मचारी हैं लेकिन वहां बैठ सकते हैं महज दो-ढाई हजार लोग। बाकी लोग किराये के ऑफिसों में बैठते हैं। इसलिए स्टीव जॉब्स ने तय किया कि वह एक ऐसा ऑफिस बनवाएंगे जिसमें पूरे कर्मचारी आ सकें।

Image result for apple company

यह बिल्डिंग किसी उडऩ तश्तरी की तरह होगा और इसके चारों ओर पेड़ लगाए जाएंगे ताकि यह हरा भरा दिखे। इसमें सारी पार्किंग अंडरग्राउंड होगी और विशालकाय कैफेटेरिया भी होगा। दिलचस्प बात यह है कि यह गगनचुंबी इमारत नहीं होगी बल्कि महज चार मंजिला इमारत होगी। इसे दिन रात रोशन रखने के लिए कंपनी खुद बिजली पैदा करेगी।

ऐप्पल ने इस बिल्डिंग के निर्माण में सहयोग देने के लिए दुनिया के बेहतरीन आर्किटेक्टों की सेवाएं लेने का फैसला किया है और वे काम करना शुरू कर चुके हैं।

कंप्यूटर, लैपटॉप और मोबाइल फोन बनानी वाली कंपनी एपल के सीईओ और जाने-माने अमेरिकी उद्योगपति स्टीव जॉब्स ने संघर्ष करके जीवन में यह मुकाम हासिल किया है। कैलिफोर्निया के सेन फ्रांसिस्को में पैदा हुए स्टीव को पाउल और कालरा जॉब्स ने गोद लिया था। जॉब्स ने कैलिफोर्निया में ही पढ़ाई की।

उस समय उनके पास ज्यादा पैसे नहीं होते थे और वे अपनी इस आर्थिक परेशानी को दूर करने के लिए गर्मियों की छुट्टियों में काम किया करते थे।

1972 में जॉब्स ने पोर्टलैंड के रीड कॉलेज से ग्रेजुएशन की। पढ़ाई के दौरान उनको अपने दोस्त के कमरे में जमीन पर सोना पड़ा। वे कोक की बोतल बेचकर खाने के लिए पैसे जुटाते थे और पास ही के कृष्ण मंदिर से सप्ताह में एक बार मिलने वाला मुफ्त भोजन भी करते थे। आज जॉब्स के पास करीब 5.1 मिलियन डॉलर की संपत्ति है और वे अमेरिका के 43वें सबसे धनी व्यक्ति हैं। जॉब्स को कंप्यूटर से लेकर पार्टेबल डिवाइसिस के 230 से अधिक एप्लिकेशन के इनवेंटर या को-इनवेंटर के तौर पर जाना जाता है। 2004 के बाद से यदि कंपनी की प्रगति को आंकड़ों में देखें तो पता चलता है कि एप्पल की कमाई वर्षानुवर्ष आधार पर 134 फीसदी बढ़ी है। इस बारे में एक अद्भुत तथ्य यह है कि जब महामंदी का दौर था यानी अर्थव्यवस्था के बुरी तरह से ध्वस्त होने का समय था तब भी 2009 में एप्पल की शुद्ध आय में 35 फीसदी का इजाफा हुआ था और 2010 में कंपनी की शुद्ध आय 70 फीसदी बढ़ी। जॉब्स ने आध्यात्मिक ज्ञान के लिए भारत की यात्रा की और बौद्ध धर्म को अपनाया। जॉब्स ने 1991 में लोरेन पॉवेल से शादी की। उनका एक बेटा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *