Menu

क्यों सलाद खाना है ज़रूरी, कैसे ये आपको बीमारियों से रखता है दूर

सलाद हमारे संपूर्ण स्वास्थ्य के लिए जरूरी है। कच्ची सब्जियों से शरीर को जरूरी एंजाइम मिलते हैं जो शरीर को भोजन में से पोषक तत्वों को सोखने में मदद करते हैं। शरीर जितने पोषक तत्वों को सोखेगा, उतना ही स्वस्थ रहेगा। वेजिटेबल सलाद शरीर में रक्त की मात्रा बढ़ाता है और इससे शरीर को उचित मात्रा में विटामिन सी, ई, फॉलिक एसिड, लयकोपीन, अल्फा और बीटा केरोटीन देता है।

कैलारी की मात्रा करे कम

अगर आप अपना वजन कम करना चाहती हैं तो सलाद खाएं। वजन कम करते समय हमेशा खाने की मात्रा को कम करने पर बल दिया जाता है, लेकिन सलाद के मामले में यह नियम बदल जाता है। यहां ‘बिगर इज बेटर’ का नियम लागू होता है। जितना मन चाहे उतना सलाद खाएं। सलाद मात्रा में अधिक, लेकिन कैलोरी में कम होता है। एक प्याला सलाद में सिर्फ 100 कैलोरी होती है। इसमें मौजूद फाइबर भूख शांत करने में मदद करते हैं और पेट भरा हुआ महसूस होता है। इसलिए खाना खाने से पहले सलाद खाने की सलाह दी जाती है। सलाद ओवर ईटिंग से भी बचाता है।

ज्यादा जीने के लिए

कच्चे फलों और सब्जियों में काफी मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट होते हैं। आधुनिक अनुसंधानों से पता चला है कि जो लोग फल, सब्जियां और अच्छी वसा खाते हैं, उनकी औसत आयु ज्यादा होती है ।

सलाद कैसे-कैसे

इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि आप शाकाहारी हैं या मांसाहारी। हर एक की पसंद के लिए सलाद मौजूद है। सलाद में सिर्फ टमाटर और खीरा ही नहीं होता। हजारों तरह की सामग्री का इस्तेमाल कर सलाद बनाया जाता है। आप बरसों तक रोज अलग-अलग तरह का सलाद खा सकती हैं।

ग्रीन सलाद : हरी पत्तेदार सब्जियों जैसे पालक, लेट्यूस या पत्ता गोभी, खीरा, ककड़ी और मिर्च आदि से बनता है।

वेजिटेबल सलाद : हरे रंग की सब्जियों के अलावा दूसरे रंगों की सब्जियां जैसे खीरा, मिर्च, टमाटर, मशरूम, प्याज, मूली, गाजर आदि से बनता है।

मेन कोर्स सलाद : इसे डिनर सलाद भी कहते हैं। इसमें ग्रिल्ड और फ्राइड चिकन और सी-फूड भी होते हैं

फ्रूट सलाद : फ्रूट सलाद विभिन्न फलों का मिश्रण होता है।

डेजर्ट सलाद : इसमें विभिन्न तरह के सूखे मेवों का इस्तेमाल होता है। स्ट्रॉबेरी, लीची, खजूर वगैरह से इसकी ड्रेसिंग की जाती है।

स्प्राउटेड सलाद : इसमें मुख्य रूप से अंकुरित मूंग, चना और मोठ का इस्तेमाल होता है।

बरतें थोड़ी सावधानी

  • फूड प्वॉइजनिंग से बचने के लिए सलाद को अच्छे तरीके से धोकर खाएं।
  • लंच में या शाम के स्नैक्स के समय सलाद खाना अच्छा रहता है। रात के समय अधिक मात्रा में सलाद खाने से गैस की समस्या हो जाती है।
  • अगर आप वजन कम करने के लिए सलाद खा रही हैं तो ज्यादा वसायुक्त सामग्री जैसे चीज आदि से ड्रेसिंग न करें। इससे कैलोरी की मात्रा बहुत बढ़ जाती है।

1 thought on “क्यों सलाद खाना है ज़रूरी, कैसे ये आपको बीमारियों से रखता है दूर”

  1. Budd says:

    Thanks for helping me to see things in a difrefent light.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *